नि:शुल्क साइकिल वितरण योजना प्रबंधन प्रणाली  Back

नि:शुल्क साइकिल वितरण योजना प्रबंधन प्रणाली के बारे मे ..

निःशुल्क सायकिल प्रदाय योजना अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्र में निवासरत विद्यार्थी जो कि शासकीय विद्यालयों में कक्षा 9 वीं में अध्ययनरत है, तथा वह जिस ग्राम का निवासी है उस ग्राम में शासकीय माध्यमिक विद्यालय/हाई स्कूल संचालित नहीं है तथा वह अध्ययन के लिए किसी अन्य ग्राम/शहर के शासकीय स्कूल में जाता है, उसे निःशुल्क सायकिल वितरण योजना अंतर्गत लाभान्वित किया जाता है। इस योजना का लाभ छात्र को कक्षा 9 वीं में प्रथम प्रवेष पर एक ही बार मिलेगा अर्थात कक्षा 9 वीं में पुनः प्रवेष लेने पर उसे सायकिल की पात्रता नहीं होगी। इसके अतिरिक्त ऐसे मजरे /टोले जिनकी दूरी विद्यालय से 2 कि.मी. से ज्यादा है तो ऐसे मजरे टोले से विद्यालय में आने वाले छात्रों को भी सायकिल दी जावेगी एवं ग्रामीण क्षेत्र में स्थित कन्या छात्रावास में अध्ययनरत छात्राऐ जिनकी शाला छात्रावास से 2 कि.मी या अधिक दूरी पर है, को भी साईकिल प्रदाय की जावेगी । ये सायकिलें छात्रावास को आवंटित की जायेगी ओर छात्रावास में रहने वाली बालिकाऐं इनका प्रयोग कर सकेगी। छात्रावास छोडते समय सायकिलें छात्रावास में ही जमा करना आवश्यक होगा । कक्षा 9 वीं के विद्यार्थी को 20 इंच की सायकिल प्रदान की जाती है।

निःशुल्क सायकिल प्रदाय योजना वर्ष 2004-05 से संचालित है। वर्ष 2016-17 से पूर्व पात्र बच्चों को सायकिल क्रय हेतु राशी रू. 2400/- प्रदान की जाती थी। वर्ष 2016-17 से लद्यु उद्योग निगम के माध्यम से सायकिल क्रय कर प्रदान की जा रही है। प्रदेश में पहली बार शैक्षणिक सत्र 2019-20 के प्रथम दिवस 24 जून 2019 को सायकिलों का वितरण किया गया। वर्ष 2019-20 में कक्षा 9वीं के लगभग 4.32 लाख छात्र/छात्राऐं लाभान्वित होंगे। योजना के तहत विगत 3 वर्ष में निःशुल्क सायकिल योजना अंतर्गत कक्षा 9वीं के लाभान्वित छात्रों का

Designed & developed by National Informatics Centre  

User Profile